इतिहास एवं पुरातत्व पर व्याख्यान

राजस्थान आॅर्कियोलाॅजी एवं एपिग्राफी संस्था तथा सिस्टर निवेदिता कन्या महाविद्यालय के इतिहास विभाग द्वारा इतिहास एवं पुरातत्व पर व्याख्यान आयोजित किया गया। जिसमें उज्जैन के अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त पुरातत्वविद् डाॅ. नारायण व्यास ने व्याख्यान के मुख्य वक्ता के रूप में उद्धोधन देते हुए विद्यार्थियों को देश में हुई महत्वपूर्ण अनुसंधान एवं नयी खोज की जानकारी देते हुए बताया कि प्रागैतिहासिक काल में पाषाण की संस्कृति में मनुष्य ने किस प्रकार पाषाण के हथियार निर्मित किए एवं उनके उपयोग के बारे में बताया। कार्यक्रम कि अध्यक्षता करते हुए डाॅ. रीतेश व्यास ने बताया कि विद्यार्थियों को धरोहर के प्रति जागरूकता एव रखरखाव के विषय की जानकारी देते हुए कहा कि राजस्थान आॅर्कियोलाॅजी व एपिग्राफी संस्था द्वारा इस हेतु एक कार्यशाला का आयोजन शीघ्र ही किया जाएगा जिसमें इतिहास के छात्रों के साथ इस विषय पर जागरूक लोगों को पुरातत्व महत्व के स्थल खोज प्रणाली के बारे में जानकारी मिलेगी तािा वे स्वय विषय पर कार्य कर सकेंगे।